धुम्रपान से प्रभावित फेफड़ो को कैसे साफ़ करे | How to clean lungs affected by smoking

clean lungs affected by smoking एक व्यक्ति बिना पानी या खाना खाये कुछ दिनों तक रह सकता है लेकिन बिना साँस लिए कुछ मिनट तक भी जिन्दा नहीं रह सकता है हमारा दिल एक दिन में 1 लाख से भी ज्यादा बार धड़कता है और एक साधारण इन्शान के फेफड़े एक दिन में 20 से 30 हजार बार साँस लेते है.

 

कहने का अर्थ यह है की एक साधारण व्यक्ति का शरीर बिना रुके दिन भर काम करता है और उसमे हमारे फेफड़ो का रोल सबसे ज्यादा है.

 

smoking यानि की धुम्रपान एक ऐसी चीज़ है जो की हमारे फेफड़े और दिल दोनों के लिए ही बहोत ज्यादा हानिकारक है और इसका हमारी त्वचा, बाल और दिमाक पर भी बहोत बुरा प्रभाव पड़ता है.

 

clean lungs affected by smokingहाल ही में किये गये एक reserch से पता चला है की की पूरी दुनिया में Smokers के मुकाबले X Smokers की संख्या ज्यादा है यानि की जितने लोग आज के समय में सिगरेट पी रहे है उससे ज्यादा लोग सिगरेट पीना पूरी तरह बंद कर चुके है.

 

इससे यह साबित होता है की सिगरेट की लत को पूरी तरह छोड़ा जा सकता है फिर वो इन्शान चाहे जितने दिनों से smoking कर रहा हो.

 

तम्बाकू और सिगरेट में nicotine पाया जाता है और इस nicotine की खास बात यह है की हमारा दिमाक और शरीर धीरे धीरे इसका Tolerance यानि सहनशीलता बडाता जाता है.

 

इसे भी पड़े 

clean lungs affected by smoking यानि की जब कोई व्यक्ति तम्बाकू खाना या सिगरेट पीना सुरु करता है तो दिन प्रतिदिन हमारे दिमाक और शरीर की इसे झेलने की आदत पड़ जाती है दिमाक अपने आप को इसके इतने अनुकूल कर लेता है की पहले जो हमे 1 सिगरेट से संतुष्टि मिल जाती थी वह धीरे धीरे 2,3,4,और 5 में बदल जाती है.

 

इसके बाद nicotine हमारे शरीर के खून और दिमाक में अपनी जड़े पूरी तरह जमा लेता है और हमारी आदत हमारी जरुरत में बदल जाती है शरीर में nicotine की स्तर थोडा कम होते ही हमारा दिमाक हमे सिंगरेट पिने का सिंग्नल देने लगता है और धीरे धीरे हम इतनी सिगरेट पीना सुरु कर देते है की जितना की हमने पहले कभी सोचा भी नहीं था.

 

reserch के मुताबिक एक सिगरेट को जलाने पर इसमें से लगभग 4000 तरह के अलग अलग Chemicals निकलते है जिसमे से 400 बहोत ज्यादा जहरीले और लगभग 43 Chemical कैंसर पैदा करने वाले होते है यह सभी Chemicals हमारे खून को बहोत ज्यादा दूषित करते है और यह दूषित खून शरीर के सभी दुसरे अंगो को भी प्रभावित करने लगते है.

 

clean lungs affected by smokingधीरे धीरे हमारी स्किन ख़राब होने लगती है और ज्यादा Tention लेने के साथ साथ चिडचिडापन भी बड़ने लगता है लम्बे समय तक smoking करने से मर्दों की Sexual Pawer और महिलाओ की Fertility पर भी बहोत बुरा प्रभाव पड़ता है और भूक कम लगने की वजह से शरीर में पोसक तत्वों की कमी होने लगती है जिससे हमारा Immune System पूरी तरह कमजोर पड़ जाता है.

 

कहा जाता है की Healthy Lungs का कलर पिंक होता है और धुम्रपान करने वाले लोगो के Lungs का कलर काला होता है काले फेफड़े हमारे शरीर के पुरे खून को भी धीरे धीरे काला बना देते है ऐसे में बहोत जरूरी है की फेफड़े यानि Lungs को detox कर के तम्बाकू और सिगरेट के सेवन से हुए प्रभावो को शरीर से पूरी तरह बहार निकला जाए.

 

और ऐसा करने के लिए घरेलु उपाय यानि की Natural Treatment से बेहतर और कुछ नहीं कुछ ऐसी चुनिंदा चीज़े होती है जिनका हमारे फेफड़ो पर सबसे ज्यादा असर होता है और उनके नियमित स्तमाल से lungs के साथ साथ खून को भी पूरी तरह Purify किया जा सकता है.

 

तो चलिए सुरुआत करते है पहले नुस्के से,clean lungs affected by smoking

 

फेफड़ो को साफ़ करने के घरेलु उपाये NO-1

पहले नुस्के में फेफड़ो को साफ़ करने के हमे जरूरत होगी

  1. अदरक का रस

  2. दालचीनी

  3. निम्बू का रस

  4. शहद

  5. लाल मिर्च पावडर

नोट : इसमें लाल मिर्च पावडर के लिए हमे घर में इस्तमाल होने वाली चिली पावडर का नहीं बल्कि Cayenne Pepper का इस्तमाल करना है.

 

Cayenne Pepper साधारण लाल मिर्च से काफी ज्यादा फैदेमंद होती है यह मोटी और लम्बी आकार की लाल मिर्च से बनाई जाती है इसका सेवन करना पेट, किडनी, लीवर और फेफडो के लिए बहोत अच्छा माना जाता है और साथ ही Cayenne Pepper के साथ शहद का मिश्रण बॉडी को तेज़ी से Detoct करता है.

 

उपर दी गयी सारी चीजों को मिला कर हमे एक ड्रिंक तैयार करनी है.

विधि : सबसे पहले 1 ½ कप पानी को अच्छी तरह उबाल कर एक गिलास में निकल लें और उसके बाद इसमें ½ चम्मच Cayenne Pepper पावडर, ½ चम्मच दालचीनी पावडर, 1 चम्मच अदरक का रस, 1 चम्मच निम्बू का रस, और 2 चम्मच शहद डाल कर सारी चीजों को आपस में डाल कर अच्छी तरह मिक्स कर लें इस तरह से ये ड्रिंक तैयार हो जाएगी.

 

इस ड्रिंक का हमे रोजाना रात को सोने से पहले चाय की तरह सेवन करना है इसमें मौजूद दालचीनी और निम्बू का रस फेफड़ो में जमे टार और कालेपन को निकलने में मदद करता है और साथ ही शहद धुम्रपान और तम्बाकू के सेवन से हुए नुकसान और infection को तेज़ी से रिपेयर करता है.

 

इन सारी चीजों से बनी यह ड्रिंक lungs को detox करने के साथ साथ खून को भी साफ़ करती है और लगातार इसके इस्तमाल से हमारे शरीर का Respiratory System improve हो जाता है और साथ ही साथ साँस लेने में पहले से ज्यादा फर्क नज़र आने लगता है.

 

इसके कुछ ही दिनों के इस्तमाल से आप को अपने शरीर की enargy में भी कमल का फर्क नज़र आएगा इसके आलावा धुम्रपान करने वाले लोगो को अपनी dite में ऐसी चीज़े ज्यादा खानी चाहिए जिनमे क्लोरोफिल की मात्रा ज्यादा हो.

 

फेफड़ो को साफ़ करने के लिए  वीट ग्रास का सेवन

clean lungs affected by smoking

वीट ग्रास जूस यानि की गेहू के जवारे के रस में क्लोरोफिल भरपूर मात्रा में होता है रोजाना इसका सेवन करने से फेफड़ो में जमी गंदगी ख़त्म हो जाती है और यह खून को साफ़ करने के साथ साथ उसे बडाता भी है अगर आप एक लम्बे समय से सिगरेट का सेवन कर रहे है तो वीट ग्रास जूस के मात्र एक हफ्ते के इस्तमाल से ही आप को अपनी सेहत और त्वचा में फर्क दिखना सुरु हो जायेगा.

 

चवनप्राश भी है तम्बाकू और धुम्रपान का रामबाण इलाज

इसके आलावा शरीर को तम्बाकू के बुरे असर को निकलने के लिए चवनप्राश भी एक फायदेमंद औषधि की तरह काम करता है इसके अंदर कई आयुर्वेदिक जड़ीबूटियों का मिश्रण होता है रोजाना दिन में या रात के समय चवनप्राश खाने से यह फेफड़ो के साथ साथ शरीर के सभी अंगो को detox कर के उन्हें शक्ति प्रदान करता है.

 

जो लोग सिगरेट की वजह से मेहनत वाला काम करने से थक जाते है या हाफ़ने लगते है या फिर जिन लोगो का सिगरेट नहीं पिने से तलब की वजह से सर दर्द होने लगता है उन्हें रोजाना एक से दो चम्मच चवनप्राश का सेवन करना चाहिए.

 

धुम्रपान का असर कम करने के लिए योगा करना सबसे ज्यादा जरुरी होता है जो लोग एक अरसे से सिगरेट पीते आ रहे है उन्हें पता भी नहीं चलता की उनकी शास लेने की क्षमता दुसरे लोगो के मुकाबले कम हो चुकी है.

 

गहरी शास लेनी की आदत डाले

ऐसे में बहोत जरुरी है की गहरी शास लेने की आदत डाली जाए जिस तरह से जिम में हाथो की कसरत करने से हाथ मजबूत होते है बिलकुल उसी तरह गहरी शास लेना से हमारे फेफड़ो के लिए फायदेमंद होता है इससे फेफड़ो में जमी गंदगी भी बहार निकलती है और शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा भी बढती है.

 

सुबह में Running या Walk करे

clean lungs affected by smoking

सुबह सुबह वोक या रनिंग करना फेफड़ो के लिए सबसे फायेदेमंद रहता है यह किसी भी दुसरे इलाज या नुस्के से ज्यादा फायदेमंद होता है क्यू की जब हमारे फेफड़े तेज़ी से पंप होते है तो इसके कार्य करने की क्षमता बढती है और इस वजह से कमजोर हो चुके फेफड़े धीरे धीरे पहले की तरह हेल्थी हो जाते है.

 

इसके साथ ही दिन भर में ज्यादा से ज्यादा पानी पियें और तम्बाकू खाना या सिगरेट पीना पहले से कम कर दे या पूरी तरह छोड़ दे lungs detox करने के लिए यह बहोत जरुरी है की सफाई के साथ साथ उन्हें गन्दा होने से भी रोके नहीं तो एक तरफ आप सफाई करते जायेंगे और दूसरी तरफ  सिगरेट पिने की वजह से वो गंदे होते जायेंगे.

 

फेफड़ो को साफ़ करके धुम्रपान के प्रभाव को कम करे हेल्लो दोस्तों आप लोगो को हमारी यह आज की पोस्ट कैसी लगी आप हमे कमेंट कर के जरुर बताये आज की इस पोस्ट में हमने सिगरेट से जले हुए फेफड़ो को recover कैसे करे इसके बारे में बड़े ही विस्तार से बताया है अगर आप लोगो को मेरी इस पोस्ट से 1 % का भी लाभ होता है तो मुझे बड़ी ख़ुशी होगी और आप लोग हमे सोसल अकाउंट में भी फोलो करे जिससे की हम आप लोगो से बात चीत कर सके और भी जानकारी दे सके वो भी हिंदी में आज के लिए इंतना ही मिलते है अगली पोस्ट में तब तक के लिए नमस्कार !

 

2 thoughts on “धुम्रपान से प्रभावित फेफड़ो को कैसे साफ़ करे | How to clean lungs affected by smoking”

  1. Pingback: Benefits Of Green Tea | चाय कॉफ़ी के नुकशान और ग्रीन टी के फायदे
  2. Pingback: Isro New Mission | इसरो का नया मिसन | - Gyan News Isro New Mission

Leave a Comment