KYC Full Form : KYC Meaning KYC क्यों जरूरी है

आज हम आपको KYC Full Form , KYC Means , KYC Meaning , KYC Full Form In Hindi के बारे में पूरी जानकारी देंगे इसके साथ ही आपको यह भी बतायेंगे की आखिर KYC करवाना इतना जरूरी क्यों है.

दोस्तों जैसे जैसे internet का महत्त्व हमारी लाइफ में बढता जा रहा है वैसे वैसे internet में फ्रोड भी बढता जा रहा है जिसे हम Cyber crime के नाम से जानते हैं और यह इतनी ज्यादा मात्रा में बड चूका है की अगर हम इस पर ध्यान ना दें तो इससे हमारी बहुत से गुप्त जानकारी और हमारे bank को भी खाली किया जा सकता है.

और इन्ही सब को देखते हुए (RBI) Reserve bank of india ने यह Guideline जारी किया है की online से लेकर offline तक के सभी किये जाने वाले transaction पर KYC करवाना अनिवार्य है.

और अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपका account बंद कर दिया जाएगा इसलिए सभी bank और online shopping, paytm, google pay, phonepe, जैसी सभी online transaction करने वाली कंपनियां अपने अपने ग्राहकों को KYC करवाना अनिवार्य कर दिया है.

जिससे की internet के माध्यम से होने वाले Cyber crime को रोका जा सके और हम सभी सुरछित अपना काम कर सकें इसलिए यह KYC को इतना ज्यादा महत्त्व हमारी सरकार से दिया जा रहा है|

 

KYC Full Form In Hindi

दोस्तों अब बात करते हैं की KYC ka full form क्या है तो KYC ka full form Know Your Customer जैसा की इसके नाम से ही पता चलता है की KYC का क्या अर्थ है अपने ग्राहक को जानना

 

K : Know – जानना

Y : Your – अपने

C : Customer – ग्राहक

 

full form of KYC में ही आपको इस शब्द का मतलब पता चलता है की आप अपने ग्राहक को कितना जानते हैं, ग्राहक को जानने का अर्थ यह नहीं है की आपका ग्राहक क्या खाता है क्या पीता है कहा जाता है क्या करता है.

जानने का अर्थ यह है की आपके पास अपने ग्राहक की क्या जानकारी है जैसे passport, adhar card, pan card, voter ID, rasan card ये सारी चीजें आपके पास आपके ग्राहक की मौजूद हैं की नहीं,

Full Form: GDP

दोस्तों अब आपके दिमाक में एक सवाल ने जन्म लिया होगा की जब हम अपना कोई भी bank account open करवाते हैं तो यह सारी चीजे जैसे passport, adhar card, pan card, voter ID, rasan card  तो हमसे लिया ही जाता हैं बिना इसके तो हमारा bank account ही open नहीं होगा.

तो दोस्तों आपको बता दें की भले ही यह सारे document आपके bank account open करवाते समय लिए जाते हैं लेकिन अब फिर ये उन सारे document का verification करने के लिए आपसे माँगा जायेगा जिसे आपको जमा करना ही होगा.

इसके साथ ही आपको बता दें की अगर आप आज की date में कोई भी bank account open करवाते हैं तो आपसे पहले यह सारे document verify करवा लिए जायेगे आपको बाद में कोई document verify नहीं करवाना है जिसका अर्थ यह है की bank account open करवाते समय ही आपका KYC Verification कर लिए जाएगा|

 

KYC क्या है full form of KYC

दोस्तों KYC एक ऐसी प्रक्रिया होती है जिसके माध्यम से कोई भी bank या कोई online transaction वाली कम्पनी अपने ग्राहकों से जुड़े कुछ जरूरी ducument का verification करती है जिसे हम KYC कहते हैं.

और आज के समय में लगभग सभी bank या online transaction वाली कम्पनी यह KYC online ही कर लेती हैं लेकिन कुछ कुछ जगह पर यह KYC online नहीं होता है जैसे bank, bank में हमे अपना KYC bank में जा कर करवाना होता है|

 

KYC कैसे करें या करवायें

अगर आप bank में KYC करवाना चाहते हैं तो KYC करवाने के लिए आपको कुछ जरूरी documents साथ ले जाना होता है जैसे passport, aadhar card, pan card, voter ID, rasan card. यह जरूरी नहीं है की आपको इनमे से सारे documents साथ लेकर जाना है अगर आपके पास adhar card और pan card है तो भी आपका KYC सफलतापूर्वक हो जाएगा.

इसके साथ ही अगर आप online transaction वाली कंपनियों जैसे Google Pay, PhonePe, BheemUPI, PayTM, पर KYC करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कही जाने की जरूरत नहीं है आप इसे घर बैठे की कर सकते हैं.

इसके लिए आपको बस अपने pan card, या aadhar card की जरूरत पड़ती है और आपके mobile number की, आप इनके द्वारा पूछे गये सभी जानकारी fill कर देंगे तो आपका KYC सफलतापूर्वक हो जाएगा|

 

KYC करने के लिए किन किन Document की जरूरत पड़ती है

दोस्तों अगर आप अपने bank में या फिर किसी online transaction वाली कंपनियों में अपना KYC करवाना चाहते हैं तो आपको कुछ जरूरी documents की जरूरत पड़ती है.

  • Aadhaar Card
  • PAN Card
  • Voter Card
  • Driving Licence
  • Rashan Card

 

इसके साथ ही जब आप किसी bank में अपना account का KYC करवाने जायेंगे तो आपको एक KYC का form दिया जाएगा जिसमे आपको अपना नाम, पता, जन्म दिन अपना मोबाइल नम्बर इसके साथ ही उपर बताये गये कुछ जरूरी document की फोटो कॉपी की जरूरत पड़ेगी उसकी सारी जानकारी आप उस फॉर्म भी भर कर bank वालो को जमा कर दीजिये आपका KYC हो जाएगा|

 

KYC क्यों जरूरी है

दोस्तों KYC हमे क्यों करवाना चाहिए यह सवाल भी आपके दिमाक में कभी न कभी आया होगा KYC इसलिए जरूरी है क्युकी इससे हमारा bank account सुरक्षित रहता है.

इसके साथ ही आपके bank को आपके बारे में इतनी जानकारी रखने का तो हक़ है, की आपका असली नाम क्या है, आपका पता है, और आपने जो भी जानकारी bank को दी है क्या वो सही है की नहीं, ताकि समय आने पर bank आपकी पूरी मदद कर सके.

दोस्तो अक्सर होता क्या है की कभी कभी हमारे पास हमारे bank account में जुड़े नंबर में कोई फ्रोड कॉल आती है जिसमें हमारे बारे में और हमारे bank के बारे में पूछा जाता है.

और यह सब जानकारी के साथ साथ वो हमसे हमारे आधार कार्ड की भी जानकारी मांगते हैं और अगर किसी वजह से उनके पास यह सारी चीजे होती भी है तो वो हमसे हमारे नंबर पर आया हुआ एक कोड की भी जानकारी लेना चाहते हैं.

ATM क्या है

और अगर हम उन्हें यह शेयर कर देते हैं तो वो हमारे bank का सारा पैसा अपने bank में ट्रान्सफर कर लेते हैं और इसी वजह से bank वाले हमसे अक्सर यह कहते हैं की आप अपना KYC करवा लीजिये क्युकी अगर आपका आपके bank में KYC हुआ रहेगा तो bank के पास यह सारी जानकारी रहेगी.

और उन फ्रोड करने वालो के पास यह सारी जानकारी नहीं रहेगी जिससे की अगर वो कॉल करके यह सब पूछते हैं तो आप उन्हें साफ़ बोल सकते हैं की हमने तो bank में सारी जानकारी दी है फिर क्या जरूरत है इन सभी जानकारी की,

और अगर किसी वजह से फ्रोड करने वाले आपके bank से पैसा निकाल भी लेते हैं तो आप अपने bank की मदद से वो पैसा वापिस पा सकते हैं क्युकी आपकी सारी जानकारी आपके bank के पास है जिससे उन्हें आपका पैसा वापिस लाने में आसानी होगी|

 

KYC कितने प्रकार की होती है

मुख्यतः KYC 2 प्रकार की होती है

  1. EKYC
  2. CKYC

 

EKYC क्या है : EKYC Full Form

E – Electronic

K – know

Y- Your

C- Customer

 

EKYC Full Form Electronic know Your Customer होता है यह एक डिजिटल तरीका होता है EKYC करने का, जैसा की इसके नाम से ही पता चल रहा है की electronic know your customer यानि की यह EKYC electonic तरीके से होती है.

दोस्तों कभी कभी आने देखा होगा की आप किसी मोबाइल रिचार्ज की दूकान पर गये होंगे और जब आपको कोई new sim card चाहिए होता है तो आप का आधार कार्ड की जानकारी और आपका अंगूठे का फिंगरप्रिंट लिया जाता है जिसे हम बायोमेट्रिक कहते हैं.

उसकी मदद से जैसे ही आप अपना अंगूठा उस बायोमेट्रिक डिवाइस पर लगाते हैं वैसे ही आपके बारे में पूरी जानकारी वहा पर show हो जाती है और इससे आपका KYC भी हो जाता है जिसे हम EKYC कहते हैं.

EKYC एक paperless प्रोग्राम होता है जिसके लिए आपको किसी कागज की जरूरत नहीं पड़ती है बस आपके एक अंगूठे की मदद से आपके बारे में सारी जानकारी निकाल ली जाती है इसे ही EKYC कहते हैं|

 

CKYC क्या है : CKYC Full Form

C – Central

K – Know

Y – Your

C – Customer

 

CKYC Full Form : Central Know Your Customer होता है KYC भारत के सभी बैंको और online transactions के द्वारा किया जाता है लेकिन CKYC केन्द्रीय स्तर पर किया जाता है जिसे हम Central KYC यानि CKYC कहते हैं.

और आपको बता दें की Central KYC यानि CKYC का इस्तेमाल हमेसा बीमा कम्पनियों, म्युचुअल फंड्स आदि कम्पनियों और NBFC के द्वारा किया जाता है|

 

आज के इस लेख से आपने क्या सीखा

आज के इस लेख से आपने यह सीखा की KYC ka full form, KYC means, KYC क्या है , KYC क्यों जरूरी है, KYC में किन documents की जरूरत पड़ती है इसके साथ ही आपने यह सीखा की KYC कितने प्रकार की होती है.

उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा लिखे गये इस आर्टिकल से जरुर कुछ नया और अच्छा सीखने मिला होगा और अगर अपने इस पोस्ट से कुछ अच्छा सीखा है तो आप हमे कमेंट करके जरुर बताएं.

इसके साथ ही आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भी जरुर शेयर करें जिससे उन्हें भी कुछ अच्छा और नया सीखने मिले हम मिलते हैं आपसे अगली पोस्ट में तब तक के लिए नमस्कार !

Leave a Comment