RIP Full Form In Hindi: रिप का फुल फॉर्म क्या है

RIP Full Form In Hindi: रिप का फुल फॉर्म क्या है: दोस्तों वैसे तो आज के समय में बहुत से ऐसे RIP Full Form हैं जिसके बारे में हमे पता होता है लेकिन कभी कभी हमसे छोटे बच्चे कुछ ऐसे सवाल पूछ लिया करते हैं जिसका जवाब हम उन्हें नहीं दे पाते हैं जिससे की उन्हें लगता है की इसे तो कुछ भी नहीं पता है इससे पूछना ही बेकार है.

इसलिये आज के समय में हमे और कुछ नहीं तो कम से कम सभी के फुल फॉर्म तो पता होने ही चहिये और आज के इस आर्टिकल में हम आपको एक ऐसे ही RIP Full Form के बारे में बताने जा रहे हैं.

जिसके बारे में आपने सुना तो बहुत होगा और देखा भी बहुत होगा लेकिन उसका फुल फॉर्म आपको नहीं पता होगा तो चलिए आज हम जानते हैं की RIP Full Form क्या ही साथ ही इसके बारे में कुछ और भी जानकारी देंगे|

 

RIP Full Form क्या है: रिप का फुल फॉर्म क्या है

दोस्तों जब आपके आस पास या आपके किसी जानने वाले की या आपके किसी femous star की मृत्यु हो जाती है तो आपने कभी गौर किया होगा की लोग RIP का इस्तेमाल करते हैं.

या फिर किसी star की या बहुत ही ज्यादा प्रचलित इंसान की मृत्यु हो जाती है तो आपने facebook, tweeter, या instagram में लोग उसका नाम लिख कर RIP लिखते हैं क्या आपको पता है की यह RIP क्या है और लोग इसका इस्तेमाल क्यों करते हैं.

दोस्तों RIP का इस्तेमाल जब किसी की म्रत्यु हो जाती है तो किया जाता है और RIP ka full form Rest in Peace होता है और RIP का इस्तेमाल इस लिए किया जाता है क्युकी हम भगवान् से दुवा कर रहे होते हैं की भगवान् इनकी आत्मा को शांति प्रदान करें.

और हमारे बहुत से ऐसे भी भाई हैं जिनको की RIP का मतलब भी नहीं पता है फिर भी वो कीसी के मरने पर RIP का इस्तेमाल करते हैं जोकि पुरी तरह से गलत है.

क्युकी जब किसी की मृत्यु होती है तो हम उसके लिए दिल से दुआ करते हैं की भगवान् इनकी आत्मा को शांति दें और अगर आपको RIP का अर्थ ही नहीं पता है तो आपने यह बात दिल से नहीं बोली जोकि पुरी तरह से गलत है.

वैसे तो आपको यह आर्टिकल पड़ कर RIP का फुल फॉर्म और RIP क्यों बोला जाता है इसके बारे में जानकारी हो ही गयी होगी लेकिन जिनको इसके बारे में नहीं पता है वो RIP न बोल कर “भगवान् इनकी आत्मा को शांति दें” यह बोल सकते हैं.

वैसे दोस्तों आपको बता दें की RIP full form Rest in Peace है लेकिन क्या आपको पता है की इस Rest in Peace word को “Requiescat in Pace” इस word से लिया गया है|

 

RIP Meaning In Hindi: RIP Full Form In Hindi

दोस्तों यह तो आपको पता चल गया की RIP का फुल फॉर्म क्या है अब आपको बताते हैं की RIP Meaning In Hindi का मतलब क्या होगा है और साथ ही यह भी बतायेंगे की RIP का इस्तेमाल लोग क्यों करते हैं.

दोस्तों आपको बता दें की इस RIP शब्द का इस्तेमाल ज्यादातर क्रिश्चन लोग करते हैं और जब उनके यहाँ पर किसी की मृत्यु हो जाती है तो आपने देखा होगा की क्रिश्चन लोग अपने यहाँ पर मृत्यु होने पर दफनाने की प्रथा होती है.

और दफनाने के बाद उनकी कब्र में उनका नाम और कब उनका जन्म हुआ और कब मृत्यु हुई या सारी चीज़े लिखी जाती हैं इसके साथ ही एक क्रोश का चिन्ह लगाया जाता है और उसमे RIP लिखा जाता है.

दोस्तों RIP का अर्थ यही होता है की हम भगवान् से यह विनीति करते हैं की आप इनकी आत्मा को शांति प्रदान करें इसलिए RIP लिखा जाता है और मरने के बाद इनके नाम के बाद भी RIP लगाया जाता है.

सबसे पहले तो क्रिश्चन लोग ही RIP का इस्तेमाल करते थे लेकिन आज के समय में जब लोग ज्यादा अडवांस हो रहे हैं तो उसमे सभी लोग RIP का इस्तेमाल करते हैं फिर चाहे वो क्रिश्चन हो या ना हो|

 

RIP शब्द का जन्म कब हुआ

दोस्तों आपको तो पता है है की भारत में पहले ब्रिटिश का शासन हुआ करता था और जब उनके रिलेटिव में कोई भी मर जाता था तो उसकी कब्र में वो RIP यानि Rest in Peace लिख देते थे तभी से इस शब्द की उत्पत्ति हो गयी.

और अब लोग जैसे जैसे अंग्रेजी भाषा को अपनाना सुरु कर दिए अंग्रेजी बोलना और लिखना सुरु कर दिए तब से सभी लोग इस RIP शब्द का इस्तेमाल करने लगे.

वैसे दोस्तों आपको बता दें की किसी की मृत्यु होने पर यह जरूरी नहीं है की आप RIP शब्द का ही इस्तेमाल करें आप यह भी बोल सकते हैं की “भगवान् इनकी आत्मा को शांति दें” यह भी काफी अच्छा word है और इसमें भगवान् का भी नाम आता है|

 

आज के इस लेख से आपने क्या सीखा

दोस्तों आजके इस लेख से अपने यह सीखा की RIP Full form In HIndi क्या है RIP Meaning In Hindi इसके साथ ही आपने सीखा की RIP का इस्तेमाल क्यों किया जाता है.

उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा लिखे गये इस आर्टिकल से जरुर कुछ अच्छा और नया सीखने मिला होगा और अगर आपको इस आर्टिकल से कुछ अच्छा और नया सीखने मिला है तो आप हमे कमेंट करके जरुर बताएं.

और आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भी जरुर शेयर करें जिससे उन्हें भी कुछ अच्छा और नया सीखने मिले हम मिलते है आपसे अगली पोस्ट में तब तक के लिए नमस्कार !

Leave a Comment